एयर इंडिया को लोन चुकाने के लिए 3,900 करोड़ रुपये आवंटित किए जाएंगे

एयर इंडिया के वित्तीय पुनर्गठन के लिए एयर इंडिया एसेट होल्डिंग्स लिमिटेड का गठन किया जाएगा, जिसमें कंपनी का ऋण ट्रांसफर किया जाएगा और 1300 करोड़ रुपये दिया जाएगा। सरकार ने एयर इंडिया को कर्ज का भुगतान करने के लिए बजट में 3,900 करोड़ रुपये दिए हैं। यह जानकारी बजट दस्तावेजों से मिली है। पैसे की समस्या में फसी विमान कंपनी एयर इंडिया को वित्तीय पुनर्गठन के लिए एयर इंडिया एसेट होल्डिंग लिमिटेड बनाया गया था।

एयर इंडिया का ऋण उसी में स्थानांतरित किया गया था। बजट दस्तावेजों के अनुसार, सरकार ने इस साल एयर इंडिया एसेट होल्डिंग्स को 1,300 करोड़ रुपये आवंटित करने का फैसला किया है। अगले वित्त वर्ष में कंपनी को 2,600 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। दस्तावेजों के अनुसार, यह प्रावधान एयर इंडिया के वित्तीय पुनर्गठन के लिए हस्तांतरित ग्रहणाधिकार का भुगतान करने के लिए बनाई गई एक विशेष कंपनी को दिया गया है।

एयर इंडिया पर 55,000 करोड़ रुपये का कर्ज है। इसमें करीब 29,000 करोड़ रुपये एयर इंडिया एसेट होल्डिंग्स को ट्रांसफर किए जाएंगे। कंपनी 2007 में इंडियन एयरलाइंस के विलय के बाद पैसो की समस्या में है। एयर इंडिया को सबसे महत्वपूर्ण परिचालन के लिए विमान की खरीद के लिए 1,084 करोड़ रुपये का भुगतान भी करना होगा। बजट में 2019-20 के लिए नागर विमान मंत्रालय ने कुल 4,500 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है। चालू वित्त वर्ष में, मंत्रालय ने 6,602.86 करोड़ रुपये आवंटित किए थे, जिनमें से संशोधित कर को घटाकर 9,700 करोड़ रुपये कर दिया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *